Latest Posts

अग्निपथ योजना के खिलाफ किसान सभा ने किया शिमला के उपायुक्त कार्यालय के बाहर प्रदर्शन, योजना को वापस लेने की मांग

 

अग्निपथ योजना के खिलाफ किसान सभा ने किया शिमला के उपायुक्त कार्यालय के बाहर प्रदर्शन, योजना को वापस लेने की मांग

शिमला :- सेना में भर्ती के लिए केंद्र सरकार द्वारा लाई गई अग्निपथ  योजना का देश भर में विरोध हो रहा है युवाओं के साथ राजनीतिक दल भी इसका विरोध कर रहे हैं वहीं किसानों ने भी इसका विरोध करना शुरू कर दिया है।  मंगलवार को राजधानी शिमला के उपायुक्त कार्यालय के बाहर हिमाचल किसान सभा द्वारा धरना प्रदर्शन किया गया और इस योजना को वापस लेने की मांग की।  हिमाचल किसान सभा के अध्यक्ष कुलदीप तंवर ने कहा कि केंद्र सरकार ने पहले भी किसानों के लिए बिल लाए थे और किसानों ने उसका विरोध किया और एक लंबे संघर्ष के बाद आखिरकार इस सरकार को झुकना पड़ा है और बिल वापिस लेना पड़ा वही अब केंद्र सरकार उसका बदला लेने के लिए अब किसानों के बेटों को सेना में भर्ती करने के लिए अग्निपथ योजना लाकर उसका बदला लिया जा रहा है। राजनेताओं के अपने बच्चे सेना में भर्ती नही होते किसानों के बेटे ही सबसे ज्यादा सेना में भर्ती होते है। केंद्र सरकार अन्य उपक्रमो को ठेके पर दे रही है वही अब सेना में भी ठेके पर भर्ती की जा रही है और देश के युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है जोकि किसी भी सूरत में बर्दास्त नही किया जाएगा। किसान सभा इस योजना का विरोध करती है और जिस तरह से केंद्र सरकार को कृषि कानून वापस लेना पड़ा था उसी तरह यह योजना भी केंद्र सरकार को वापस लेनी पड़ेगी उन्होंने कहा कि देशभर में किसान सभा इस योजना का विरोध इसके खिलाफ राष्ट्रपति को किसान सभा 24  जून को ज्ञापन भी भेजेगी।