अनुभव हीन है सीएम सूक्खु, मंत्री तो दूर चैयरमैन तक नही बने तभी ले रहे है ऐसे फैसले, बिक्रम ठाकुर

 

अनुभव हीन है सीएम सूक्खु, मंत्री तो दूर चैयरमैन तक नही बने तभी ले रहे है ऐसे फैसले, बिक्रम ठाकुर

शिमला। प्रदेश की सुखविंदर सिंह सुक्खू सरकार द्वारा विभागों को डिनोटिफाई करने पर भाजपा लगातार हमला वर बै और बदले की भावना से काम करने के आरोप लगाए जा रहे हैं वहीं विभागों को बन्द करने पर पूर्व मंत्री और विधायक विक्रम ठाकुर ने सुखविंदर सिंह सुक्खू को अनुभवहीन करार दिया उन्होंने कहा कि प्रदेश में पूर्व की भाजपा सरकार द्वारा खोले गए संस्थानों को यह सरकार बंद कर रही है जबकि लोगों की मांग पर ही यह विभाग खोले गए थे लेकिन सरकार अभी से बंद कर रही है उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू अनुभवहीन है ना तो वे कभी मंत्री रहे और ना ही चेयरमैन रहे। उन्हें अनुभव नहीं है जिसके चलते इस तरह के फैसले ले रहे हैं भाजपा सदन के अंदर भी और बाहर भी विरोध कर रही है।

वही डीजल पर वैट बढ़ाने पर भी विक्रम ठाकुर ने निशाना साधा ओर कहा कि विपक्ष में रहते हुए कांग्रेस लगातार महंगाई को मुद्दा बनाकर हो हल्ला करती रही लेकिन अब सत्ता में आते ही सूक्खु सरकार ने अपना असली रूप दिखा दिया है और डीजल पर वैट बढ़ा दिया गया है जोकि दुर्भाग्यपूर्ण है इससे आम लोगों पर बोझ पड़ने वाला है डीजल के दाम बढ़ने से सभी वस्तुओं पर इसका असर पड़ेगा और महंगाई बढ़ेगी। उन्होंने कहा कि इसका असर सब्जी से लेकर उद्योगों तक पड़ेगा। सरकार को इस फैसले पर दोबारा से विचार करना चाहिए और डीजल पर वेट को वापिस लेना चाहिए।

इसके अलावा कांगड़ा जिला को एक मंत्री देने पर भी विक्रम ठाकुर ने सवाल खड़े किए उन्होंने कहा कि पूर्व सरकारों में कांगड़ा को चार चार मंत्री मिलते रहे लेकिन इस सरकार में केवल एक मंत्री दिया गया है जो कि दुर्भाग्यपूर्ण है कांगड़ा की जनता ने कांग्रेस को 10 सीटें जिता कर दी है और लोगों को भी काफी उम्मीदें थी लेकिन उनकी उम्मीदों पर पानी फेर दिया है।