आप के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने शराब घोटाले के पैसे को पंजाब ओर गोवा विधान सभा चुनावों में खर्च किया : रणधीर

 

आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने शराब घोटाले के पैसे को पंजाब ओर गोवा विधान सभा चुनावों में खर्च किया : रणधीर

दिल्ली में शराब घोटाले को लेकर हिमाचल भाजपा ने आम आदमी पार्टी पर निशाना साधा है और शराब घोटाले के पैसे से पंजाब और गोवा विधानसभा चुनाव लड़ने के आरोप लगाए है। भाजपा मुख्यप्रवक्त रणधीर शर्मा ने कहा कि सोशल मीडिया पर चल रहे शराब घोटाले का दूसरा स्टिंग सामने आया है।
इस स्टिंग ऑपरेशन में शराब घोटाले में आरोपी नम्बर-9 अमित अरोड़ा द्वारा केजरीवाल सरकार पर एडवांस में पैसा लेने-देने करने का जिक्र किया। उसने यस भी बताया है कि नयी शराब नीति को इस बात को ध्यान में रखकर बनाया गया है कि चुनिंदा लोगों के हाथों पैसा रहे और उन्हीं के हाथों से कैश फ्लो हो।
उदाहरण के तौर पर पूरे भारत में शराब की दो ही बड़े ब्रांड हैं। उनके दो बड़े अधिकृत होलसेलर को दिल्ली में ठेका दिए गए। दो बड़े ब्रांड में डीआईजीओ और पेरीरिकार्ड है। उनके दो बड़े अधिकृत होलसेलर है जिसमें एक ब्रांडको और दूसरा इंडोस्प्रीट है।

रणधीर शर्मा ने कहा स्टिंग ऑपरेशन में आरोपी नम्बर-9 अमित अरोड़ ने बताया है-
केजरीवाल सरकार को ब्रांडको ब्रांड वाले अमन ढल की तरफ से 60 करोड़ रुपए और इंडो स्प्रीट की समीर महेन्द्रू की तरफ से 100 करोड़ रुपए देने की बात कही गयी है।

केजरीवाल सरकार ने नयी शराब नीति लागू कर पहली बार सरकार द्वारा शराब का कमीशन निर्धारित की गयी।
जबकि शराब कंपनियों द्वारा मैनुफैक्चरर, होलसेलर एवं रिटेल के बीच में कमीशन तय की जाती है। भिन्न-भिन्न रिटेलर का कमीशन परिस्थिति के अनुसार तय होता है, ताकि रिटेलरों के बीच स्वस्थ्य प्रतिस्पर्द्धा बनी रहे।
केजरीवाल सरकार द्वारा होलसेर्ल्स के लिए सर्वाधिक शराब कमीशन तय की गयी।
अरविंद केजरीवाल ने मुख्यमंत्री बनने के बाद कहा था कि कोई स्टिंग बनाकर भ्रष्टाचार का खुलासा करेगा तो हमारी सरकार उस स्टिंग पर तत्काल कार्रवाई करेगी।
भारतीय जनता पार्टी मांग कराती है कि अरविन्द केजरीवाल इस स्टिंग ऑपरेशन को लेकर शराब घोटाले पर कार्रवाई करें या अरविन्द केजरीवाल पूर्व में दिए गए अपने बयान के लिए सार्वजनिक माफ़ी मांगे।