Latest Posts

आम आदमी पार्टी हिमाचल प्रदेश ने शुरू किया सेल्फी विद स्कूल अभियान

Himachal प्रदेश  की शिक्षा व्यवस्था को लेकर आम आदमी पार्टी ने सेल्फी विद स्कूल जन अभियान की शुरुआत की है। मंगलवार को आम आदमी पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष सुरजीत ठाकुर ने एक वीडियो जारी कर अभियान की शुरुआत की तो वहीं पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता गौरव शर्मा ने शिमला में एक पत्रकार वार्ता के माध्यम से अभियान की शुरुआत की। इस मौके पर प्रदेश प्रवक्ता गौरव शर्मा ने कहा कि दिल्ली के यशस्वी मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक बड़े लंबे समय से हिमाचल प्रदेश में शिक्षा के ऊपर बहुत बड़ा बदलाव लाने के लिए जनसंवाद कर रहे हैं। बार-बार स्कूलों की जो दयनीय हालत है इंफ्रास्ट्रक्चर का बुरा हाल है और जिस तरीके से हिमाचल प्रदेश के बच्चों के साथ जो अन्याय हो रहा है उस को उजागर करने के लिए आम आदमी पार्टी निरंतर प्रयास कर रही है। उसी कड़ी को आगे बढ़ाते हुए जैसे ही अरविंद केजरीवाल हमीरपुर में आए उन्होंने शिक्षा के ऊपर शिक्षकों और बच्चों के अभिभावकों से जनसंवाद कर जाना कि किस तरीके की शिक्षा, हिमाचल प्रदेश में दी जा रही है शिक्षा क्षेत्र में किस तरह से बेहतरी होनी चाहिए।उसको देखते हुए आज आम आदमी पार्टी के नवनियुक्त अध्यक्ष सुरजीत ठाकुर ने एक अभियान की शुरुआत की है जिसका नाम ‘सेल्फी विद स्कूल’ है इस अभियान के तहत आम आदमी पार्टी हिमाचल प्रदेश की जनता से आग्रह करती है कि वह अपने आसपास के स्कूलों में जाएं, स्कूल के साथ सेल्फी लें और शिक्षा की बेहतरी के लिए क्या उनके विचार हैं, क्या उनके स्कूल की हालत है उस पर एक छोटा सा एक वीडियो बनाकर व्हाट्सएप पर डालें। वीडियो, हैश टैग के साथ पोस्ट करें, ट्वीट करें, फेसबुक पर डालें और साथ ही आम आदमी पार्टी ने एक व्हाट्सएप नंबर भी लांच किया है उस नंबर में भी आप वीडियो साझा करें

यह नंबर है 98053-60763
ताकि आप, आम आदमी पार्टी माध्यम से बता सके कि हिमाचल प्रदेश की शिक्षा व्यवस्था किस तरह की है।

*प्रदेश की दयनीय शिक्षा व्यवस्था के लिए भाजपा और कांग्रेस जिम्मेवार*

गौरव शर्मा ने कहा कि अब यह हिमाचल प्रदेश की जनता को तय करना है कि उनके बच्चों का जो भविष्य है क्या वह सुरक्षित है, क्या जो ने पढ़ाया जा रहा है, इंफ्रास्ट्रक्चर और जो फैसिलिटी उनके बच्चों को सरकारी स्कूलों में दी जा रही है क्या वह ठीक है। अब यह जो मुद्दा है यह राजनीति की नहीं बल्कि प्रदेश के भविष्य से जुड़ा हुआ है। शिक्षा के मुद्दे को लेकर आम आदमी पार्टी प्रदेश की आम जनता से जुड़ना चाहती है और निश्चित ही शिक्षा का जो मुद्दा है वह चुनावी मुद्दा बने ताकि आने वाले विधानसभा चुनावों में प्रदेश की जनता आम आदमी पार्टी को वोट दे।
क्योंकि भाजपा और कांग्रेस दोनों ने इतने लंबे वर्षों तक राज करने के बाद भी प्रदेश में शिक्षा क्षेत्र में कुछ नहीं किया और आज शिक्षा के जो हाल हैं से बद से बदतर होते गए जिसके लिए भाजपा और कांग्रेस दोनों जिम्मेवार हैं। उन्होंने कहा हम हिमाचल प्रदेश के बच्चों का भविष्य उज्जवल चाहते हैं, बेहतर चाहते हैं, सुरक्षित जाते हैं, ताकि बच्चा पर लिखने के बाद अपने पैरों पर खड़ा हो सके। यह सवाल राजनीतिक नहीं रह गया है और यह जो प्रश्न है वह हिमाचल प्रदेश के बच्चों के भविष्य का है और बच्चों का भविष्य सीधा – सीधा उसकी शिक्षा तय करती है और आम आदमी पार्टी यह दावे के साथ कह सकती है कि हिमाचल में शिक्षा की बहुत बुरी हालत है। इसलिए हमनें भी अपनी सेल्फी विद स्कूल के छायाचित्र आज मीडिया के माध्यम से आपके साथ साझा की है और सभी बच्चों के अभिभावकों से अनुरोध करते हैं कि आप सब भी अपने आसपास के स्कूल मे जाएं और selfi with school लें उसकी तस्वीरें साझा करें, साथ ही अपने विचार का एक छोटा वीडियो भी बनाएं जिसमें शिक्षा का हाल उसकी स्थिति और अपने विचार प्रकट करें ।