कंधे पर हल लेकर पैदल यात्रा कर किसान लायक राम पहुचा सीएम सूक्खु से मिलने शिमला

 

कंधे पर हल लेकर पैदल यात्रा कर किसान लायक राम पहुचा सीएम सूक्खु से मिलने शिमला, कर्ज से राहत देने और नुकसान का मुआवजा देने की लगा रहा गुहार, डीसी ऑफिस के बाहर किया प्रदर्शन

हिमाचल प्रदेश के किसान बागवानों की समस्याओं को लेकर सोलन के बद्दी के लायक राम किसान बचाओ देश बचाओ पैदल यात्रा पर निकले है। लायक राम हल कंधे पर उठा कर मुख्यमंत्री से मिलने शिमला पहुचा है। लायक राम ने बद्दी से एक जनवरी को यात्रा शुरू की थी और शनिवार को शिमला पहुचा जहा उन्होंने डीसी ऑफिस के बाहर शांतिपूर्ण तरीके से हल रख कर प्रदर्शन किया ओर किसानों की फसलों के बर्बाद होने पर समय पर मुआवजा देने के साथ ही कर्ज माफ करने की गुहार लगाई। लायक राम मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह से मिलने भी जाएंगे जहा किसान बागवानों के हित मे योजनाएं बनाने की मांग करेगे।
लायक राम ने कहा की किसान प्रकृति की बारिश पर निर्भर करता है ओर बारिश का कम ज्यादा होना फसल पर प्रभाव डालता है फैसले खराब हो जाती है सरकार इसके लिए कोई मुआवजा भी नहीं देती किसान सरकार बनाने में अहम भूमिका निभाता है देश का पेट भरता है किसानों के लिए कोई छोटा कोई छोटा बड़ा नहीं होता चाहे वह मजदूर हो या फिर प्रधानमंत्री। हर वर्ग का पेट भरने का काम किसान करता है लेकिन आज किसान आत्महत्या की कगार पर आकर खड़ा हो गया है ना किसानों को मुआवजा मिल रहे है। बीज और दवाइयां महंगी हो गई है कभी प्रकृति की मार तो कभी राजनीति की मार किसानों को झेलनी पड़ती है। बैंकों से लोन उठाना पड़ता है और लोन के लिए मात्र 15 दिन का समय दिया जाता है और अगर लोन समय पर नहीं भरा जाता तो जमीन और घर जब्त कर दिए जाते है उन्होंने कहा कि सरकार किसानों को मुआवजे का प्रबंध करे। इसके लिए वे शांतिपूर्ण तरीके से अपनी बात को मुख्यमंत्री तक पहुंचाना चाहते है। मांगों को लेकर पहले मुख्यमंत्री को ज्ञापन सौंपा जाएगा और फिर प्रधानमंत्री तक अपनी बात रखने के लिए दिल्ली के लिए प्रस्थान किया जाएगा।