कांग्रेस में शामिल होने के बयान पर भड़के राकेश पठानिया,

कांग्रेस में शामिल होने के बयान पर भड़के राकेश पठानिया,दिमाग का इलाज करवाने की दी सलाह, लीगल नोटिस देने की कही बात

मानसून सत्र के आखिरी दिन कांग्रेस विधायक सुखविंद्र सिंह सुक्खू के बीच तीखी नोक-झोंक हुई। सुक्खू के वन मंत्री राकेश पठानिया और उद्योग मंत्री विक्रम सिंह ठाकुर के कांग्रेस में शामिल होने के बयान पर वन मंत्री राकेश पठानिया भड़क गए और सुक्खू को दिमाग का इलाज करवाने की सलाह दी।

राकेश पठानिया ने कहा कि भाजपा छोड़ने का कोई मतलब नही है। कांग्रेस डूबता जहाज है ओर डूबता जहाज में कौन सवार होना चाहेगा। देश से ही कोंग्रेस गायब हो रही है कांग्रेस के कई नेता भाजपा के सम्पर्क में है । कांग्रेस में जाने का सवाल नही है न कभी सोचा है। सुखविंदर सिंह इस तरह के बयान दे कर राजनीतिक लाभ लेने की कोशिश कर रही है लेकिन इससे कोई फायदा नही होने वाला है। उन्होंने कहा कि इसका जवाब सदन में दे दिया है ओर लीगल नोटिस भी देने पर विचार किया जा रहा है।

वही सुखविंद्र सुक्खू ने कहा कि उन्होंने सदन में किसी का नाम नही लिया लेकिन तीर निशाने पर लग गया और उनको दर्द हो गया है। केवल दो ही मंत्री नहीं बल्कि कई अन्य मंत्री भी कांग्रेस के संपर्क में है। उन्होंने कहा कि जिन मंत्रियों को टिकट कटने का डर सता रहा है। वह कांग्रेस पार्टी के संपर्क में है।