Latest Posts

कैबिनेट की बैठक में खुला नौकरियों का पिटारा, जल शक्ति विभाग में भरे जाएंगे 3970 पद ,अन्य विभागों में पदों को भरने की हरी झंडी.

 

कैबिनेट की बैठक में खुला नौकरियों का पिटारा, जल शक्ति विभाग में भरे जाएंगे 3970 पद ,अन्य विभागों में पदों को भरने की हरी झंडी.

Shimla :-  हिमाचल कैबिनेट ने 3970 पद भरने की मंजूरी दे दी है। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की अध्यक्षता में हुई बैठक में जल शक्ति विभाग में पैरा वर्कर भरने को सहमति दे दी है। इनमें ठेकेदारों द्वारा संचालित लगभग 600 स्कीमों में आउटसोर्स पर तैनात कर्मियों को भी वरीयता दी जाएगी। वित्त विभाग पहले ही इनकी भर्ती को मंजूरी दे चुका है।

पंचायती राज मंत्री वीरेन्द्र कंवर ने कहा कि पंचायती राज विभाग में पंचायत सचिवों के 389 पदों को कर्मचारी चयन बोर्ड के माध्यम से संविदा आधार पर सीधी भर्ती के माध्यम से भरने की स्वीकृति प्रदान की।

मंत्रि-परिषद ने पंचायती राज विभाग में कर्मचारी चयन बोर्ड के माध्यम से संविदा आधार पर सीधी भर्ती के माध्यम से 124 नवीन पदों के सृजन एवं तकनीकी सहायकों के 40 पदों को भरने की स्वीकृति प्रदान की।

बैठक में नवगठित ग्राम पंचायतों के लिए चयन समिति के माध्यम से ग्राम रोजगार सेवकों के 124 पदों को भरने की भी स्वीकृति प्रदान की गयी.

बैठक में राज्य आबकारी विभाग में पुलिस कर्मियों के 73 पद सृजित करने एवं भरने को स्वीकृति प्रदान की ताकि आबकारी एनडीपीएस एवं अन्य नियामक कानूनों को प्रभावी रूप से लागू किया जा सके।

 

मंत्रि-परिषद ने क्षेत्र के लोगों की सुविधा के लिए कांगड़ा जिले की जयसिंहपुर तहसील के जलग में नई उप तहसील खोलने की स्वीकृति प्रदान की।

इसने हिमाचल प्रदेश विधवा पुनर्विवाह नियम-2013 में संशोधन करने के लिए एक लाख रुपये अनुदान का प्रावधान कर स्वीकृति प्रदान की।  जोड़े को  50000 रुपये के बजाय 65000 दिया जाएगा ।

मंत्रि-परिषद ने शिमला जिले के रामपुर क्षेत्र के शासकीय हाई स्कूल स्नानागार को पदोन्नत करने तथा अपेक्षित पदों को भरने के साथ-साथ वरिष्ठ माध्यमिक स्तर पर अपग्रेड करने को भी अपनी स्वीकृति प्रदान की।

साथ ही मंडी जिले के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला बिहानी में विज्ञान की कक्षाएं शुरू करने को भी मंजूरी दी। चम्बा जिले के डलहौजी क्षेत्र में राजकीय उच्च विद्यालय ग्रेंजर को वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला, राजकीय माध्यमिक पाठशाला मंगलेरा, जुत्राहन एवं लाडर को राजकीय उच्च पाठशाला तथा शासकीय प्राथमिक पाठशाला चन्ना को राजकीय माध्यमिक पाठशाला में स्तरोन्नत करने के साथ-साथ 23 विद्यालयों के निर्माण एवं भरने की स्वीकृति प्रदान की।

मंत्रि-परिषद ने स्वास्थ्य सुरक्षा एवं नियमन निदेशालय में तकनीकी सहायक (विकिरण सुरक्षा) के दो पद सृजित करने को स्वीकृति प्रदान की।

कांगड़ा जिले के डॉ. राजेंद्र प्रसाद शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय टांडा में रेडियोग्राफर के चार पदों को संविदा आधार पर सृजित एवं भरने की स्वीकृति भी दी।

मंत्रि-परिषद ने सिरमौर जिले की ग्राम पंचायत अजोली के ग्राम नारीवाला में आवश्यक पदों के सृजन एवं भरने के साथ प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र खोलने को अपनी स्वीकृति प्रदान की.

बैठक में जिला शिमला के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र रामपुर बुशहर को स्तरोन्नत कर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में स्तरोन्नत करने के साथ ही विभिन्न श्रेणियों के पांच पदों के सृजन एवं भरने को भी स्वीकृति प्रदान की गयी।

बैठक में सोलन जिले की नालागढ़ तहसील में स्थित स्वास्थ्य उपकेन्द्र पंजेहरा को विभिन्न श्रेणियों के तीन पदों के सृजन एवं भरने के साथ ही प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में अपग्रेड करने की स्वीकृति प्रदान की गयी.

मंत्रि-परिषद ने आवश्यक पदों के सृजन एवं भरने के साथ-साथ चम्बा जिले के स्वास्थ्य उप केन्द्रों सुराल एवं क्रेउनी को प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में स्तरोन्नत करने की स्वीकृति प्रदान की।

बैठक में सोलन जिले की रामशहर तहसील में प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र डोली खोलने के साथ ही विभिन्न श्रेणियों के तीन पदों के सृजन एवं भरने की स्वीकृति प्रदान की गयी.

मंत्रि-परिषद ने हमीरपुर जिले के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र धनेटा को स्तरोन्नत कर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में स्तरोन्नत करने तथा अपेक्षित पदों को भरने के साथ ही स्वीकृति प्रदान की।

मंत्रि-परिषद ने इन संस्थानों के संचालन के लिए विभिन्न श्रेणियों के 6 पदों के सृजन और भरने के साथ-साथ चंबा जिले की चुराह तहसील के कोहल और देहग्रान में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र खोलने को मंजूरी दी.

बैठक में सिरमौर जिले की ग्राम पंचायत भटनवाली के किशनपुरा में विभिन्न श्रेणियों के तीन पदों के सृजन एवं भरने के साथ ही नया आयुर्वेदिक स्वास्थ्य केंद्र खोलने को भी अपनी सहमति दी.

मंत्रि-परिषद ने कांगड़ा जिले के सुलह विधानसभा क्षेत्र के ग्राम मुंडी और ग्राम बैरघाट में विभिन्न श्रेणियों के छह पदों के सृजन व भरने के साथ ही नये आयुर्वेदिक स्वास्थ्य केन्द्र खोलने की स्वीकृति प्रदान की.

बैठक में मण्डी जिले की ग्राम पंचायत कल्हानी के सराची में तीन पदों के सृजन एवं भरने के साथ ही नया आयुर्वेदिक स्वास्थ्य केन्द्र खोलने को भी स्वीकृति प्रदान की गयी.

मंत्रिमंडल ने आईजीएमसी शिमला और अटल चिकित्सा सुपर स्पेशियलिटी चमियाना संस्थान में सीधी भर्ती के माध्यम से सहायक प्रोफेसर के छह पदों को भरने को मंजूरी दी।

बैठक में कांगड़ा जिले के लाहरू में पशु चिकित्सा अस्पताल तथा मण्डी जिले के सेरू में एक अन्य पशु चिकित्सालय खोलने तथा विभिन्न श्रेणियों के 10 पदों को भरने की स्वीकृति प्रदान की गयी.

मंत्रि-परिषद ने हमीरपुर जिले के बियार, बडाग्रान, मझोग सुल्तानी, लम्ब्लू में पशु औषधालयों तथा मण्डी जिले के गडा गुसैनी में पशु औषधालयों को विभिन्न श्रेणियों के विभिन्न पदों के 15 पदों के सृजन एवं भरने के साथ पशु चिकित्सालय में अपग्रेड करने को अपनी स्वीकृति प्रदान की।

बैठक में हमीरपुर जिले के नादौन विधानसभा क्षेत्र में विभिन्न श्रेणियों के 13 पदों के सृजन एवं भरने के साथ जल शक्ति विभाग का नया संभाग खोलने को भी स्वीकृति प्रदान की गयी.

मंत्रि-परिषद ने बाढ़ नियंत्रण उपमंडल अंब को जल शक्ति मंडल अंब के साथ कर्मचारियों और बुनियादी ढांचे के साथ विलय करने को भी मंजूरी दी।

साथ ही विभिन्न श्रेणियों के 4 पदों के सृजन और भरने के साथ-साथ जल शक्ति मंडल चंबा के तहत चंबा जिले के साहू में नया जल शक्ति उपमंडल खोलने को भी अपनी मंजूरी दी।

मंत्रि-परिषद ने हमीरपुर जिले में जल शक्ति मंडल भोरंज को सुचारू रूप से चलाने और लोगों की सुविधा के लिए पुनर्गठित करने को अपनी सहमति दी।

बैठक में मण्डी जिले के जल शक्ति अनुमंडल करसोग अंतर्गत काव में नवीन जल शक्ति खंड खोलने की स्वीकृति प्रदान की गयी।

बैठक में सिरमौर जिले की ददाहू तहसील के ग्राम बेचार का बाग में नये शासकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान खोलने के साथ ही विभिन्न श्रेणियों के 13 पदों के सृजन एवं भरने को अपनी स्वीकृति प्रदान की गयी.

मंत्रि-परिषद ने सिरमौर जिले के रेणुकाजी विधानसभा क्षेत्र के धरती धार में विभिन्न श्रेणियों के 14 पदों के सृजन एवं भरने के साथ ही नया शासकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान खोलने की स्वीकृति प्रदान की.

इसने बी.टेक कंप्यूटर विज्ञान और इंजीनियरिंग और एम.टेक शुरू करने के लिए अपनी सहमति दी।  जवाहर लाल नेहरू गवर्नमेंट इंजीनियरिंग कॉलेज सुंदरनगर में सिविल इंजीनियरिंग में विभिन्न श्रेणियों के 12 पदों के सृजन और भरने के साथ।