जिला परिषद की बैठक में गरमाया विभागों को डिनोटिफाई करने का मामला,सदस्यों ने विभागों को जल्द खोलने की उठाई मांग

 

जिला परिषद की बैठक में गरमाया विभागों को डिनोटिफाई करने का मामला,सदस्यों ने विभागों को जल्द खोलने की उठाई मांग

प्रदेश सरकार द्वारा सरकारी संस्थानों को डीनोटिफाई करने पर जिला परिषद की बैठक जमकर हंगामा हुआ। भाजपा समर्थित सदस्यों ने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने सत्ता में आते ही बदले की भावना से काम करते हुए लोगों की मांग पर खुले संस्थानों को बंद कर दिया है। इससे आम लोगों को परेशानी हो रही है। भाजपा सदस्यों का आरोप था कि कांग्रेस ने बिना कुछ सोचे और जांच किए ही संस्थानों को बंद कर दिया। यह सिर्फ यह दर्शाता है कि यह बदले की भावना से ही किया गया काम है।
जिला परिषद सदस्य भारती जनारथा ,अनिल कलटा, ने कहा कि पूर्व सरकार ने लोगों की सुविधा के लिए ब्लॉक स्तर पर कई संस्थान खोले गए थे और उसे लोगों को काफी फायदा भी हो रहा था कई जगह काम दफ्तरों में शुरू हो गया था लेकिन इस सरकार ने वह बंद कर दी है जिससे लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है उन्होंने सरकार से इन सभी विभागों को जल्द खोलने की मांग की।

राज्य सरकार ने संस्थान बंद किए हैं. इनसे कांग्रेस की सदस्य भी नाराज है.डोडरा क्वार से जिला परिषद सदस्य मोनिता चौहान ने कहा है कि उनका क्षेत्र दूरदराज का है, वहां पर संस्थान बंद कर दिए. इससे लोगों को परेशानी होगी। उन्होंने सरकार से आग्रह किया है कि इन संस्थानों को खोलने के लिए दोबारा से फैसला लिया जाए।