पुलिस के कड़े पहरे में सोलन शहर में युवा बेरोज़गारों ने निकाली रोष रैली

 

हिमाचल / सोलन
योगेश शर्मा
17 जून

सोलन की सड़कों पर आज बेरोज़गार युवा भाजपा सरकार के खिलाफ नारे लगाते हुए नज़र आए। यह वह युवा है जो सेना में भर्ती हो कर देश की रक्षा करना चाहते थे। लेकिन आज अपने हितों की रक्षा के लिए यह सड़कों पर प्रदर्शन कर रहे हैं। जब यह प्रदर्शन चल रहा था तो सोलन शहर को छावनी में तब्दील कर दिया था। चप्पे चप्पे पर पुलिस को तैनात किया गया था, ताकि किसी भी सूरत में यह प्रदर्शन उग्र न होने पाए। सैकड़ों की संख्या में युवा आक्रोश में लगातार नारे लगाते हुए भाजपा सरकार को चेताने का प्रयास कर रहे थे कि जो सरकार फ़ौज में भर्ती को लेकर लिया है वह गलत है और वह इस फैंसले या नियमो को मानने वाले नहीं है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने उन्हें रोज़गार देने की बजाए बेरोज़गारी का तगमा दे दिया है। जिसकी वजह से वह बेहद आहत है।

युवाओं ने कहा कि सरकार को चाहिए कि जो नियम लागू कर रहे है वह 2022 के आवेदन कर्ताओं को दें लेकिन जिन युवाओं ने ग्राउंड टैस्ट पास कर लिया है उनकी लिखित परीक्षा करवाई जाए। उन्होंने कहा कि कई राज्यों में लिखित परीक्षा हो चुकी है उन्हें नौकरी भी मिल चुकी तो अन्य अभ्यर्थियों से ऐसी बेइंसाफी न की जाए। उन्होंने कहा कि सभी युवाओं में भारी आक्रोश है जिसकी वजह से वह यह प्रदर्शन करने को मजबूर है। अगर प्रदेश सरकार उनकी नहीं सुनेगी तो वह अपना यह आंदोलन भविष्य में भी जारी रखेंगे।