Latest Posts

भाजपा में शामिल हुए दोनों निर्दलीय विधायक अयोग्य  किए जाएं घोषित 

 

भाजपा में शामिल हुए दोनों निर्दलीय विधायक अयोग्य  किए जाएं घोषित

हिमाचल प्रदेश के दो निर्दलीय विधायकों ने बीते दिन भाजपा  का दामन थाम लिया है वहीं भाजपा में शामिल होने पर कांग्रेस ने इन दोनों निर्दलीय विधायकों को अयोग्य घोषित करने  और विधानसभा अध्यक्ष दल बदल कानून के तहत कार्रवाई करने की मांग की है

हिमाचल प्रदेश कांग्रेस चुनाव प्रचार समिति के अध्यक्ष व स्क्रीनिंग कमेटी के सदस्य सुखविंदर सिंह सुक्खू ने भाजपा में शामिल हुए निर्दलीय विधायकों होशियार सिंह व प्रकाश राणा को अयोग्य घोषित करने की मांग की है। उन्होंने कहा कि विधानसभा अध्यक्ष दल-बदल कानून के तहत दोनों विधायकों के खिलाफ कार्रवाई करें। राणा व होशियार सिंह ने जोगिंद्रनगर व देहरा की जनता की भावनाओं से खिलवाड़ किया है।

दोनों विधानसभा क्षेत्र की जनता ने राणा व होशियार सिंह को भाजपा के खिलाफ जनादेश देकर विधानसभा भेजा था। दोनों निर्दलीय विधायक अब भाजपा में शामिल हो गए हैं, इसलिए उनकी विधानसभा सदस्यता रद्द की जानी चाहिए। उन पर दल-बदल कानून लागू होता है। विधानसभा अध्यक्ष स्वत संज्ञान लेते हुए इनके खिलाफ कार्रवाई करें। इन्हें अब विधानसभा सदस्य रहने का कोई अधिकार नहीं है। जनता ने इन्हें निर्दलीय चुनकर विधानसभा भेजा था। भाजपा में शामिल होने से पहले ये विधायक पद से इस्तीफा देते। सुक्खू ने कहा कि भाजपा का पत्ता विधानसभा चुनाव में पूरी तरह साफ होने वाला है। दोनों विधायक डूबती नैया में सवार हुए हैं।

वही उन्होंने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि भाजपा कांग्रेस में गुटबाजी की बात करती है लेकिन अब भाजपा में ही गुटबाजी खुलकर सामने आ रही है पूर्व सीएम प्रेम कुमार धूमल को भाजपा द्वारा  दरकिनार किया जा रहा है  मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल पदेश में 10 साल तक मुख्यमंत्री रहे और अब उनके कार्यकाल के दौरान मंत्री रहे नेताओं को दरकिनार कर निर्दलीयों को पार्टी में शामिल किया गया है। उन्होंने भाजपा को कांग्रेस पर टिप्पणी करने से पहले अपने वरिष्ठ नेताओं का सम्मान करने की नसीहत भी दी।