मनीष सिसोदिया पर सीबीआई की कार्यवाही के खिलाफ भड़की AAP

 

मनीष सिसोदिया पर सीबीआई की कार्यवाही के खिलाफ भड़की AAP , शिमला डीसी ऑफिस के बाहर किया प्रदर्शन,राजनीति से प्रेरित बताई रेड

दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के घर और दफ्तर मर सीबीआई की रेड के खिलाफ आम आदमी पार्टी भड़क गई है।इसके विरोध मंगलवार को शिमला के डीसी ऑफिस के बाहर आम आदमी पार्टी ने प्रदर्शन किया और रेड को राजनीति से प्रेरित करार दिया।
आम आदमी पार्टी द्वारा आरोप लगाया गया कि सीबीआई और ईडी को भाजपा ने अपने घर की एजेंसियां बना ली है और आम लोगों परेशान किया जा रहा है।

आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता गौरव शर्मा ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने सीबीआई और ईडी अपने घर की एजेंसियां बना ली है और आम आदमी पार्टी के नेताओ पर दबिश और छापेमारी को लेकर आम आदमी पार्टी आज सड़कों में उतरी है। केजरीवाल मॉडल की चर्चा पूरे विश्व में हो रही है उसको लेकर भारतीय जनता पार्टी डरी हुई है और सीबीआई, ईडी को दबिश करने के लिए भेज देती है। उन्होंने कहा कि हाल ही में दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया के घर में छापा डाला ऐसे में मनीष सिसोदिया ने उनका सहयोग किया और कहा कि कुछ मिलता है तो ले जाईए लेकिन उन्हें कुछ नहीं मिला और उन्हें खाली हाथ लौटना पड़ा। उन्होंने कहा कि बीजेपी लोकतंत्र की हत्या करने में तुली है। एक व्यक्ति का जहां न्यू यॉर्क टाइम्स में शिक्षा के क्षेत्र में काम करने के लिए नाम छपता है जिसके लिए बड़े बड़े लोग तरस जाते है लेकिन मनीष सिसोदिया का नाम आया है। कुछ दिन पहले हिमाचल प्रदेश में उन्होंने शिक्षा की गारंटी दी तो सीबीआई ने उनके घर में दबिश कर दी। जहां सीबीआई और ईडी पर जनता विश्वास करती थी वह अब मात्र भारतीय जनता पार्टी की घर की एजेंसिया बन कर रह गई है और आम लोगों को परेशान किया जा रहा है। आम आदमी पार्टी इसका विरोध करती है और वह डरने नहीं वाले है।
उन्होंने कहा कि कुछ दिन पहले सुप्रीम कोर्ट के कुछ जजों ने भी कहा कि लोकतंत्र खतरे में है।

वही उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी धरातल पर इसलिए काम आती है क्योंकि उन्हें दिखावा करना कम आता है। आम आदमी पार्टी लोगों के घर घर जाकर लोगों से उनके मुद्दे जान रही है कि क्या कार्य बीजेपी और कांग्रेस की सरकारों ने पिछले दशक में नहीं किए है।