Breaking News

मुख्यमंत्री ऊना के गुरूद्वारा किला बाबा बेदी साहिब में 550वंे प्रकाश पर्व समारोह में शामिल हुए

मुख्यमंत्री ने ऊना में करोड़ों रुपये की विभिन्न परियोजनाओं के शिलान्यास व उद्घाटन किए

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर आज जिला ऊना के गुरूद्वारा साहिब किला बाबा बेदी साहिब में गुरू नानक देव जी के 550 वें प्रकाश पर्व समारोह में शामिल हुए।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि गुरू नानक देव जी कहते थे कि प्रत्येक चीज भगवान की इच्छा से होती है, इसलिए ईश्वरी ही जानते है कि हमारे लिए क्या सही है और क्या गलत है। उन्होंने कहा कि सिख धर्म में ईश्वर सर्वव्यापी, निराकार, असामयिक और अप्रत्यक्ष है। उन्होंने कहा कि सिख धर्म का मानना है कि सृष्टि के निर्माण से पहले भगवान थे और उनकी इच्छा के कारण भ्रम (मोह और माया) अस्तित्व में आया है

जय राम ठाकुर ने कहा कि गुरू के सिद्धांत के अनुसार सत्य की जीत समाप्ति या दबाने पर निर्भर नहीं है, बल्कि सच्चाई के साथ मजबूती से खड़े होने पर निर्भर करता है। उन्होंने कहा कि इसी कारण गुरू नानक देव जी ने सच्चाई का साथ देने पर बल दिया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वह सौभाग्यशाली है कि शिमला और पंजाब के सुल्तानपुर लोधी में आयोजित 550वें प्रकाश पर्व समारोह में शामिल होने का अवसर प्राप्त हुआ था। उन्होंने कहा कि गुरू नानक देव जी की शिक्षाएं आज ज्यादा प्रासंगिक है। उन्होंने हमें समाज के उत्थान और कल्याण के लिए कार्य करना सिखाया है। उन्होंने कहा कि गुरू नानक देव जी ने स्वयं के धर्म के साथ दूसरों के धर्म का भी सम्मान करने की बात कही है।

जय राम ठाकुर ने कहा कि गुरूद्वारा साहिब के जीर्णोंद्वार के लिए लिए भी प्रयास किए जाएंगे। उन्होंने जिला प्रशासन को इस ऐतिहासिक गुरूद्वारा साहिब तक जाने वाली सड़क और मार्ग के सुधार के निर्देश दिए। उन्होंने इस सड़क के सुधार के लिए 15 लाख रुपये की भी घोषणा की।

इससे पूर्व, मुख्यमंत्री ने 11.05 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाली आईटीआई ऊना के भवन की आधारशिला रखी।

उन्होंने 3.74 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले ईवीएम/वीवीपैट वेयर हाऊस ऊना का शिलान्यास किया।

 

इसके उपरांत, मुख्यमंत्री ने कुटलेहड़ निर्वाचन क्षेत्र, ऊना के कुछ भाग और अम्ब खण्ड के गांवों के लिए 30 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाली जलापूर्ति योजना का शिलान्या किया।

उन्होंने 2.92 करोड़ रुपये की राशि व्यय कर निर्मित होने वाले स्वास्थ्य विभाग के टाईप-2 और टाईप-3 के 6-6 आवासीय भवन की भी आधारशीला रखी।

उन्होंने 29 करोड़ रुपये की राशि व्यय कर ऊना के रामपुर स्थित एचआरटीसी वर्कशाॅप के समीप सब्जी मण्डी भवन की आधारशीला भी रखी।

मुख्यमंत्री ने कुठार खुर्द से कुठार कलां सड़क के सुधार और मोहाला ब्राहणा सड़क, लोअर भरोलियन, लोअर देलां की सम्पर्क सड़क को चैड़ा करने और कुठार खुर्द और कुठार कलां की सर्कुलर सड़क को पूर्ण करने का भूमि पूजन किया, जिस पर 3.20 करोड़ रुपये की राशि व्यय की जाएगी।

उन्होंने 2.91 करोड़ रुपये की लागत से आरटीओ ऊना के नवनिर्मित कार्यालय भवन का उद्घाटन किया।

मुख्यमंत्री ने ऊना विधानसभा क्षेत्र के ऊना खण्ड के हिमाचल प्रदेश लोक निर्माण विभाग के विश्राम गृह ऊना के समीप 32.63 करोड़ रुपये की लागत से उपलब्ध होने वाली बहु-ग्रामीण जलापूर्ति योजना की आधारशीला रखी।

मुख्यमंत्री ने 3.33 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले ऊना के परिधि गृह की आधारशीला भी रखी।

मुख्यमंत्री ने लगभग 35 करोड़ रुपये की राशि व्यय कर निर्मित किए गए नए बस अड्डा ऊना का उद्घाटन भी किया।

केन्द्रीय वित्त एवं काॅरपोरेट कार्य राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि गुरू नानक देव जी न केवल एम महान गुरू थे बल्कि समाज सुधारक और एक महान विचार भी थे। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के प्रयासों के कारण करतारपुर को सिख श्रद्धालुओं के लिए खोला गया, जिससे वह पाकिस्तान स्थित गुरूद्वारा करतारपुर साहिब जा सकेंगे।

अनुराग ठाकुर ने कहा कि यह गुरू नानक देव जी थे, जिन्होंने अपनी कमाई का दसवां हिस्सा दान देने का उपदेश दिया, जो गरीबों के कल्याण के प्रति उनकी चिन्ता को दर्शाती हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री से क्षेत्र के प्रमुख धार्मिक स्थानों जैसे ज्वाला जी, नैना देवी जी, चिन्तिपूर्णी जी, बाबा बालक नाथ जी आदि को जोड़ने के लिए परियोजना आरम्भ करने का आग्रह किया ताकि इन धार्मिक स्थानों पर जाने वाले भक्तों को सुविधा मिल सके।

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती ने कहा कि गुरू नानक देव जी ने सार्वभौमिक भाईचारे का सन्देश दिया और कहा कि धर्म केवल शब्दों की समानता नहीं है, बल्कि वास्तव में सभी पुरूषों और महिलाओं को समान रूप से देखता है। उन्होंने कहा कि गुरू नानक देव जी द्वारा लिखित गुरबानी में सार्वभौमिक भाईचारा एक मजबूत विषय था। उन्होंने कहा कि गुरू जी न केवल विशेष समुदाय या परिवारवाद की बात करते थे, बल्कि वह सम्पूर्ण मानवता के कल्याण की बात करते थे।

श्री गुरू नानक देव जी के परिवार के सदस्य सरबजोत सिंह बेदी और अमरजोत सिंह बेदी, ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री विरेन्द्र कंवर, विधायक राजेश ठाकुर और बलबीर सिंह, हिमुडा के उपाध्यक्ष प्रवीन शर्मा, एसआईडीसी के उपाध्यक्ष प्रो. राम कुमार, उपायुक्त ऊना सन्दीप कुमार सहित अन्य इस अवसर पर उपस्थित थे।

Leave a Reply

Our Visitor

0 2 5 9 3 3
Users This Month : 426
x

Check Also

नेशनल चैंपियन सुरेंद्र बहल का गृह जिला जिला में यस, हिमाचल द्वारा स्वागत नरेंद्र अत्री ने स्मृति चिन्ह व टोपी पहना कर किया अभिनंदन

नेशनल चैंपियन सुरेंद्र बहल का गृह जिला जिला में यस, हिमाचल द्वारा स्वागत नरेंद्र अत्री ने ...