मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में ग्लोबल इंवेस्टर मीट की तैयारियों को लेकर उच्च स्तरीय बैठक आयोजित

प्रदेश सरकार के सभी विभागों तथा आयोजक भागीदारों को परस्पर समन्वय एवं स्पष्ट धारणा के साथ कार्य करने के निर्देश दिए गए ताकि धर्मशाला में 7 व 8 नवम्बर को प्रस्तावित ग्लोबल इंवेस्टर मीट को सफल बनाया जा सके। मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर की अध्यक्षता में आज यहां हिमाचल प्रदेश ग्लोबल इंवेस्टर मीट को लेकर हुई उच्च स्तरीय बैठक में आयोजन की तैयारियों की विस्तृत समीक्षा की गई।
मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी सम्बन्धित अधिकारियों को प्रोफेशनल दृष्टिकोण अपनाना चाहिए ताकि इस ‘मीट’ को न केवल एक सफल आयोजन बनाया जा सके अपितु प्रदेश में निवेशकों को निवेश के लिए सुविधाएं भी दी जा सकें। उन्होंने कहा कि ग्लोबल इंवेस्टर मीट के सफल आयोजन से प्रदेश तथा प्रदेशवासियों के लिए विकास व समृद्धि के नए द्वारा खुलेंगे।
जय राम ठाकुर ने जानकारी दी कि इस मेगा ‘इंवेट’ में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह तथा अन्य केन्द्रीय मंत्री भाग लेकर इस आयोजन की शोभा बढ़ाएंगे। उन्होंने कहा कि इस आयोजन में अनेक बड़े पूंजीपति तथा विभिन्न देशों के राजदूत भी भाग लेंगे।
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री द्वारा आरम्भ किए गए प्रगति पोर्टल से प्रेरणा लेकर प्रदेश सरकार ने भी निवेशकों को आॅनलाइन निगरानी, ट्रैकिंग तथा त्वरित सुविधा प्रदान करने के लिए ‘हिम प्रगति’ पोर्टल आरम्भ किया है। उन्होंने कहा कि इस पोर्टल पर सभी समझौता ज्ञापन अपलोड किए गए है। प्रदेश सरकार ने राज्य में निवेशकों को आकर्षित करने के लिए बहु-आयामी तथा सर्वांगीण दृष्टिकोण को अपनाया है ताकि इस प्रदेश को देश का निवेशक ‘हब’ बनाया जा सके। उन्होंने कहा कि अब तक विभिन्न क्षेत्रों में 75,776 करोड़ रुपये के निवेश के 570 समझौता ज्ञापनों पर हस्ताक्षर किए जा चुके हैं।
जय राम ठाकुर ने कहा कि सार्वजनिक उपक्रमों(पीएसयू) तथा अन्य विभागों को इस कार्यक्रम के दौरान प्रदर्शनी इत्यादि लगाने के लिए स्थान उपलब्ध करवाया जाएगा। उन्होंने कहा कि इन प्रदर्शनियों में सृजनात्मकता तथा नवाचार एवं दूरदर्शी सुझावों तथा माॅडलों को महत्त्व दिया जाना चाहिए ताकि प्रधानमंत्री तथा अन्य गणमान्य व्यक्तियों का ध्यान आकर्षित किया जा सके। उन्होंने कहा कि संयुक्त अरब अमीरात ने इस आयोजन में भागीदार देश बनने की सहमति जताई है। उन्होंने कहा कि इसके अतिरिक्त, केन्द्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय, केन्द्रीय पर्यटन मंत्रालय तथा विदेश मंत्रालय ने भी इस मेगा इवेंट में भागीदार की भूमिका निभाने का आश्वासन दिया है।
मुख्य सचिव डाॅ. श्रीकांत बाल्दी ने मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए कहा कि ग्लोबल इन्वेस्टर मीट के सफल आयोजन को सुनिश्चित करने के लिए नौ समितियां गठित की गई हैं। उन्होंने कहा कि उनकी अध्यक्षता में 16 अक्तूबर को धर्मशाला में एक समीक्षा बैठक आयोजित की जाएगी और संबंधित स्थान का दौरा कर तैयारियों का जायजा लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि इस आयोजन को सफल बनाने के लिए हर सम्भव प्रयास किए जा रहे हैं।
प्रधान सचिव, मुख्यमंत्री संजय कुंडू ने मुख्यमंत्री का आभार प्रकट करते हुए आश्वासन दिलाया कि सभी अधिकारी पूर्ण कर्तव्यनिष्ठा व समर्पण से इस समारोह को ऐतिहासिक बनाने के लिए कार्य करेंगे।
अतिरिक्त मुख्य सचिव उद्योग मनोज कुमार ने विभाग द्वारा इस कार्यक्रम को यादगार बनाने के लिए की गई विभिन्न तैयारियांे का विस्तृत ब्यौरा दिया। उन्होंने कहा कि ग्लोबल इन्वेस्टर मीट के प्रत्येक सत्र के लिए विभिन्न विभागीय समितियां गठित की गई हैं।
अतिरिक्त मुख्य सचिव, प्रधान सचिव, विभागाध्यक्ष तथा नेशनल पार्टनर सीआईआई, मीडिया भागीदार-स्कवेयर काॅम्यूनिकेशन, नाॅलेज पार्टनर-ईवाई और इवेंट पार्टनर-आईसीई के प्रतिनिधि भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

Leave a Reply

Our Visitor

0 2 5 4 6 8
Users This Month : 203
x

Check Also

CM condoles demise of Forest Guard Rajesh Kumar

Chief Minister Jai Ram Thakur has condoled the sad demise of Forest Guard Rajesh Kumar ...