मुख्यमंत्री ने जिला प्रशासन को दिए अलर्ट पर रहने के निर्देश शिमला और कुल्लू की घटना पर जताया शोक

 

मुख्यमंत्री ने जिला प्रशासन को दिए अलर्ट पर रहने के निर्देश शिमला और कुल्लू की घटना पर जताया शोक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर जारी किए निर्देश,पर्यटको से की ज्यादा जलस्तर पर ना जाने की अपील.

बीते 24 घंटों के दौरान प्रदेश के कई हिस्सों में जमकर बारिश हो रही है जिसके चलते काफी नुकसान हुआ है कुल्लू में जहां बादल फटा 5 लोग लापता है  वही शिमला में एक बच्ची के मलबे में दबने से मौत हो गई ।  मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने सभी जिला उपायुक्तों को अलर्ट पर रहने के निर्देश जारी कर दिए हैं साथ ही मुख्यमंत्री ने बाहरी राज्यों से आने वाले पर्यटकों को नदियों के किनारे ना जाने का आग्रह भी किया है

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि बरसात के मौसम में हिमाचल प्रदेश में कुछ परेशानियां जरूर होती है। पिछले कुछ दिनों से मॉनसून रफ़्तार पकड़ता जा रहा है उसी दृष्टि से जिला प्रशासन को अलर्ट पर  पर रहना भी जरूरी है और जिला प्रशासन को अलर्ट में रखा गया है  आज जिला प्रशासन और पुलिस अधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग  के माध्यम से निर्देश जारी किए हैं कि कहीं भी कोई घटना होती है तो वहां पर तुरंत करवाई की दृष्टि से जो भी किया जाना चाहिए वह किया जाए उसमें कोई भी देरी ना हो साथ ही मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि कुल्लू में कुछ दिन पहले बस हादसा हुआ था बरसात के कारण सड़क में जो मलबा गिरा था यदि समय रहते उसे हटा दिया जाता तो ऐसी घटना सामने नहीं आती लेकिन बस के ड्राइवर में जबरदस्ती वहां से बस को निकालने की कोशिश की जिस कारण बस गिर गई और जिसमें 13 लोगों की दुखद मृत्यु हुई लेकिन ऐसी घटना आगे ना हो जिसके लिए जिला प्रशासन को आदेश दिए गए हैं यदि सड़क में मलबा भूस्खलन हो तो उसे तुरंत साफ किया जाए ताकि घटनाओं को रोका जा सके।

वही मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि ढली में भी आज सुबह भूस्खलन हुआ जिसमें एक लड़की की मृत्यु हुई है और 2 लोग घायल हुए हैं जिन्हें अस्पताल ले जाया गया। किसके साथ कुल्लू मैं भी घटना घटी है जिसमें 5 लोग लापता हुए हैं।

दूसरी और कुल्लू मे गाड़ी गिरी जिसमें तीन लोग सवार थे उनमें से दो लोग लापता है । जिस तरह से घटनाओं का क्रम बढ़ता जा रहा है उससे सरकार की चिंता भी बढ़ती है। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन को आदेश दे दिए गए हैं कि जहां भी ऐसी घटना होती है तो प्रशासन तुरंत बचाव कार्य करे ।

वहीं मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने अपील की है कि अन्य राज्य से आने वाले पर्यटक वहां ना जाए जहां पानी का जलस्तर बढ़ने की संभावनाएं और जहां भूस्खलन की की संभावनाएं हैं बाकी पर्यटक हिमाचल आए ओर आनंद के साथ रहे