Latest Posts

मुख्यमंत्री ने नूरपुर विधानसभा क्षेत्र में 163.55 करोड़ रुपये की विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण व शिलान्यास किए

नूरपुर बनेगा नया पुलिस जिलाः जय राम ठाकुर
मुख्यमंत्री ने नूरपुर के लिए नए विद्युत वृत्त की घोषणा की
मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने नूरपुर के लिए नए पुलिस जिले की घोषणा की है और यह पंजाब के साथ सीमावर्ती क्षेत्रों वाले चार निर्वाचन क्षेत्रों को कवर करेगा। बद्दी के बाद यह राज्य का दूसरा पुलिस जिला होगा। उन्होंने नूरपुर में बिजली बोर्ड के अलग वृत की भी घोषणा की, जो इन चार विधानसभा क्षेत्रों को कवर करेगा।
मुख्यमंत्री ने सुलयाली, जाच्छ, खैरियां में पशु अस्पताल और बडुही में पशु औषधालय खोलने की घोषणा की। उन्होंने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र खैरियां की क्षमता 30 बिस्तरों तक बढ़ाने, सुखर, फट्टू-दा-बाग में प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र और मौजूदा बीएमओ कार्यालय का नाम गंगथ से नूरपुर में परिवर्तित करने की घोषणा की। उन्होंने खेल, सौगत और मेकड़ में आयुर्वेदिक उपकेंद्र खोलने की भी घोषणा की। उन्होंने राजकीय उच्च पाठशाला कमनाला, डनी और खाजन को जमा दो में स्तरोन्नत करने तथा राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला ग्योरा में विज्ञान की कक्षाएं और राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला धनेटी में वाणिज्य संकाय की कक्षाएं शुरू करने की घोषणा की। उन्होंने राजकीय माध्यमिक पाठशाला बडुही खास, खेड़, बागनी, थोड़ा भलुं, माओ (पुंडर) और थोड़ा को राजकीय उच्च पाठशालाओं में स्तरोन्नत करने की घोषणा की। उन्होंने राजकीय प्राथमिक पाठशाला बडुही को राजकीय माध्यमिक पाठशाला में स्तरोन्नत करने की भी घोषणा की। मुख्यमंत्री ने औंद, बरंदा और बासा में नए पटवार वृत खोलने की घोषणा की।
मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने नूरपुर विधानसभा क्षेत्र के लिए 163.55 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास करने के बाद नूरपुर चौगान में एक विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए यह घोषणाएं की।
जय राम ठाकुर ने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार राज्य के समग्र विकास के लिए कृतसंकल्प है और प्रदेश के हर क्षेत्र में अभूतपूर्व विकास हुआ है। प्रदेश सरकार ने कोरोना के संकट काल भी में प्रदेश में विकास की रफ्तार नहीं थमने दी।
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश की आबादी का लगभग आधा हिस्सा महिला शक्ति का है। ऐसे में राज्य सरकार ने फैसला किया है कि आधी आबादी का किराया भी आधा हो और इसके तहत हिमाचल पथ परिवहन निगम की बसों में महिलाओं को किराये में 50 फीसदी की छूट मिलेगी। इसके साथ ही प्रदेश सरकार ने 60 की बजाय अब 125 यूनिट बिजली निःशुल्क देने का निर्णय लिया है। इससे पहले 60 यूनिट तक निःशुल्क बिजली देने से प्रदेश के 11 लाख से अधिक उपभोक्ताओं को बड़ा लाभ मिला है और उनका बिजली बिल जीरो आया है। वहीं प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में पानी बिल माफ़ करने से प्रदेश की करीब 90 फीसदी आबादी को लाभ मिला है।
इससे पहले मुख्यमंत्री ने नूरपुर खंड के लोगों के लिए 100.32 करोड़ की 24 विकासात्मक परियोजनाओं एवं भवनों के लोकार्पण किए। इनमें 73.60 करोड़ रुपये की फिन्ना सिंह मध्यम सिंचाई परियोजना, 6.90 करोड़ रुपये का खेल इंडोर स्टेडियम, बोह में 5 करोड़ रुपये से निर्मित अग्निशमन भवन, बसा, हदियालां, कंडी, थल्ली और कुलाहन गांवों के लिए   1.07 करोड़ रुपये की उठाऊ जलापूर्ति योजना, भलेटा अघर एवं पंझारा क्षेत्र के लिए 93.12 लाख की उठाऊ जलापूर्ति योजना, नूरपुर के सूखा प्रभावित क्षेत्र के लिए 4.58 करोड़ रुपये की उठाऊ जलापूर्ति योजना, 2.76 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित 26 नलकूपों, 90 लाख रुपये की लागत से निर्मित वन विश्राम गृह मलकवाल, 80 लाख रुपये की लागत से निर्मित वनमण्डलाधिकारी कार्यालय भवन और सुलयाली में 70 लाख रुपये की लागत से निर्मित गौ अभयारण्य शामिल हैं।
मुख्यमंत्री ने 63.23 करोड़ की 22 विभिन्न विकास परियोजनाओं के शिलान्यास भी किए। इनमें नागरिक अस्पताल नूरपुर में 12.50 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाला 100 बिस्तरों का अतिरिक्त खण्ड, चौगान में 7.50 करोड़ रुपये से निर्मित होने वाला सिंथेटिक ट्रैक, सुलियाली में 5 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाला पुस्तकालय और संग्रहालय, 3 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाला वज़ीर राम सिंह पठानिया स्मारक समिति, 4.52 करोड़ रुपये से निर्मित होने वाली लखनपुर-चंद्रहान-बरंदा सड़क, 3.85 करोड़ रुपये से निर्मित होने वाली भलून-गलूद वाया बासा सड़क और चौंछ खड्ड पर 1.57 करोड़ रुपये से निर्मित होने वाला पुल शामिल है।
इसके पश्चात, मुख्यमंत्री ने ऐतिहासिक और प्रसिद्ध बृजराज स्वामी मंदिर नूरपुर पहुंच कर वहां शीश नवाया।
वन मंत्री राकेश पठानिया ने मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के गतिशील नेतृत्व में नूरपुर विधानसभा क्षेत्र ने सर्वांगीण विकास में उत्कृष्ट प्रदर्शन किया है और क्षेत्र के लोगों के लिए विकास के एक नए युग की शुरुआत हुई है। उन्होंने  97.24 करोड़ रुपये की परियोजनाएं समर्पित कीं और 58.64 करोड़ रुपये की लागत से पूर्ण होने वाली परियोजनाओं का शिलान्यास करने के लिए मुख्यमंत्री का धन्यवाद किया।
उद्योग मंत्री बिक्रम सिंह, राज्यसभा सांसद इंदु गोस्वामी, विधायक अर्जुन ठाकुर, रविंदर धीमान, रीता धीमान, अरुण मेहरा, राजेश ठाकुर, जिया लाल, कांगड़ा केंद्रीय सहकारी बैंक के अध्यक्ष डॉ. राजीव भारद्वाज, सामान्य उद्योग निगम के उपाध्यक्ष मनोहर धीमान, ओबीसी कल्याण निगम के उपाध्यक्ष ओ.पी. चौधरी, राज्य लघु बचत बोर्ड के उपाध्यक्ष संजय गुलेरिया, पूर्व सांसद कृपाल परमार, जिला भाजपा अध्यक्ष रमेश राणा, मंडल अध्यक्ष कुलदीप पाठक, नगर परिषद अध्यक्ष नूरपुर अशोक शर्मा, उपाध्यक्ष एमसी नूरपुर रजनी महाजन, जिला परिषद सदस्य अर्पणा देवी, बीडीसी अध्यक्ष कुसुम देवी, निदेशक वाईएसएस राजेश शर्मा, मुख्य परियोजना निदेशक (जेआईसीए) नागेश गुलेरिया, उपायुक्त निपुण जिंदल और पुलिस अधीक्षक खुशहाल शर्मा भी इस अवसर पर उपस्थित थे।