मुख्यमंत्री ने हिमाचल का महा क्विज प्रतियोगिता का शुभारम्भ किया

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज यहां माइगव हिमाचल, सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग द्वारा आयोजित जन भागीदारी से सुशासन, हिमाचल का महा क्विज प्रतियोगिता का शुभारम्भ किया।
 इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि 11 मई को राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस मनाया जाता है और इसी उपलक्ष्य में राज्य सरकार ने अॅानलाइन माध्यम से मेगा क्विज का आयोजन किया है। उन्होंने कहा कि यह प्रश्नोत्तरी केंद्र और राज्य सरकारों की जनकल्याणकारी योजनाओं पर आधारित होगी और हिंदी और अंग्रेजी भाषाओं में आयोजित की जाएगी। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने समाज के कमजोर वर्गों के कल्याण और सामाजिक-आर्थिक उत्थान के लिए कई योजनाएं आरम्भ की हैं। उन्होंने कहा कि प्रश्नोत्तरी राज्य सरकार की नीतियों और कार्यक्रमों का प्रचार-प्रसार करने में बहुत सहायक होगी।
मुख्यमंत्री ने कहा कि यह प्रश्नोत्तरी राज्य सरकार के माइगव हिमाचल वेब पोर्टल पर आयोजित की जा रही है। इस तरह की प्रतियोगिता राज्य में पहली बार आयोजित की जा रही है। उन्होंने कहा कि इस आयोजन का मुख्य उद्देश्य लोगों को सरकार की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं और सुशासन के बारे में जागरूक करना है। इस प्रश्नोत्तरी के माध्यम से आम जनता सरकार की योजनाओं के बारे में जान सकेगी और उनके लिए इन योजनाओं का लाभ प्राप्त करना और सुगम हो जाएगा।
जय राम ठाकुर ने कहा कि कई बार राज्य सरकार द्वारा शुरू की गई योजनाओं की जानकारी के अभाव में लोग विभिन्न योजनाओं के लाभ से वंचित रह जाते हैं। उन्होंने कहा कि इस आयोजन का उद्देश्य लोगों को विभिन्न सरकारी योजनाओं के बारे में जागरूक करना है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने अपने चार वर्ष के कार्यकाल के दौरान कई नई पहल की हैं और प्रश्नोत्तरी से लोगों को इन योजनाओं के बारे में जानने में मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कई बार विभिन्न केंद्रीय योजनाओं के लाभार्थियों से संवाद कर चुके हैं।
सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री सरवीन चौधरी ने कहा कि मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के कुशल नेतृत्व में राज्य सरकार ने गरीबों और दलितों के लिए कई योजनाएं शुरू की हैं। उन्होंने कहा कि बेटी है अनमोल, शगुन योजना, मुख्यमंत्री गृहिणी सुविधा योजना आदि जैसी योजनाएं महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए वरदान साबित हुई हैं।
मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव सुभासीष पन्डा ने मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए कहा कि यह प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता विभिन्न विषयों पर कुल आठ राउंड में आयोजित की जाएगी। उन्होंने कहा कि पहला क्विज महिला सशक्तिकरण पर आधारित होगा। उन्होंने कहा कि क्विज के प्रत्येक राउंड में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए 1000 रुपये पुरस्कार राशि के रूप में दिए जाएंगे। उन्होंने बताया कि आठ राउंड पूरे करने के बाद विजेता को 51 हजार रुपये, दूसरे स्थान पर रहने वाले प्रतिभागी को 21 हजार रुपये और तीसरा स्थान हासिल करने वाले को 11 हजार रुपये प्रदान किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि सरकार की ओर से सभी प्रतिभागियों को ऑटो जेनरेटेड डिजिटल प्रमाण पत्र दिए जाएंगे।
सीईओ माइगव, भारत सरकार अभिषेक सिंह ने धन्यवाद प्रस्ताव प्रस्तुत किया।
इस अवसर पर मुख्य सचिव राम सुभग सिंह, अतिरिक्त मुख्य सचिव संजय गुप्ता, निदेशक सूचना प्रौद्योगिकी रूपाली ठाकुर, निदेशक सूचना एवं जन संपर्क हरबंस सिंह ब्रसकोन, सीईओ माइगव हिमाचल राजीव शर्मा और अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।