मैंने अभी कांग्रेस ज्वाइन नहीं की, जो सदर की जनता चाहेगी वही होगा :- अनिल शर्मा

मैंने अभी कांग्रेस ज्वाइन नहीं की, जो सदर की जनता चाहेगी वही होगा
सदर विधायक अनिल शर्मा ने कांग्रेस पार्टी ज्वाइन करने की खबरों का किया खंडन
कहा- दिल्ली में कांग्रेस और भाजपा के शीर्ष नेतृत्व से मिलकर रख दी है अपनी बात
दोनों दलों से है ऑफर, लेकिन सदर क्षेत्र की जनता ही लेगी निर्णय
जहां सदर के लोग कहेंगे, वहीं से लडूंगा चुनाव, नहीं तो बैठ जाऊंगा घर
कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व को बता दिया है 2017 में पार्टी छोड़ने का कारण
भाजपा के शीर्ष नेतृत्व के पास भी विस्तार से रख दी है अपनी बात
मैं जिस भी दल में जाउं, ये फैसला बंद कमरे में नही सबसे सामने होगा

मंडी सदर के विधायक अनिल शर्मा ने उनके कांग्रेस पार्टी में शामिल हो जाने की खबरों का खंडन किया है। दिल्ली से लौटने के बाद अनिल शर्मा ने मीडिया से बातचीत में कहा कि सोशल मीडिया पर उनके कांग्रेस में शामिल होने जो खबरें चल रही हैं वे पूरी तरह से निराधार हैं। उन्होंने बताया कि दिल्ली में उनकी कांग्रेस और भाजपा के शीर्ष नेतृत्व से बात हुई है और उन्होंने अपनी बात विस्तार से रख दी है। उन्हें दोनों दलों की तरफ से ऑफर है। अब दिल्ली से लौटने के बाद वे सदर क्षेत्र की जनता के बीच जाकर अपनी बात रख रहे हैं। सदर क्षेत्र की जनता जिस दल से चुनाव लड़ने को कहेगी, उसी दल से चुनाव लडूंगा, यदि चुनाव ल लड़ने को कहेगी तो घर बैठ जाउंगा। उन्होंने स्पष्ट किया कि जो भी निर्णय होगा वो सबसे सामने होगा, न कि बंद कमरे में।

अनिल शर्मा ने बताया कि सोनिया गांधी की तबीयत खराब होने के चलते उन्होंने प्रियंका गांधी से मिलकर अपनी बात रखने को कहा था। प्रियंका गांधी से विस्तार से बात हुई है और उन्होंने बताया है कि 2017 में उन्होंने किन कारणों से कांग्रेस को छोड़कर भाजपा का दामन थामा था। इसके बाद उनकी मुलाकात भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष से हुई और उन्हें भी उन्होंने मंत्रीपद छोड़ने के बाद उनके साथ हुई बातों की विस्तार से जानकारी दे दी है। जगत प्रकाश नड्डा ने अनिल शर्मा को संगठन के साथ चर्चा के बाद आगामी निर्णय लेने को कहा है। वहीं अनिल शर्मा ने भाजपा को यह भी स्पष्ट किया है कि यदि भाजपा उनकी बेकद्री पर स्पष्टीकरण देती है तो ही वे पार्टी में बने रहने पर विचार करेंगे।