Latest Posts

व्यक्ति की मौत के बाद सवालों के घेरे में igmc प्रशासन , परिजनों के सवालों पर क्या बोले ms डॉ जनकराज

फिर सवालों के घेरे में आईजीएमसी प्रशासन, कार्डियोलॉजी डिपार्टमेंट में मरीज की मौत के बाद परिजनों ने लगाए गंभीर आरोप

शिमला :- अक्सर सवालों के घेरे में रहने वाले इंदिरा गांधी मेडिकल कॉलेज एक बार पर की व्यवस्था पर एक बार फिर सवालिया निशान खड़े हो गए हैं. कार्डियोलॉजी डिपार्टमेंट में सरकाघाट के 47 वर्षीय मरीज की मौत के बाद परिजनों ने अस्पताल प्रशासन पर गंभीर आरोप लगाए हैं.

मृतक के परिजनों का कहना है कि इलाज के दौरान ऑफिस स्टाफ ने उनके साथ दुर्व्यवहार किया. साथ ही मृतक के बेटे संजीव सिंह राणा का कहना है कि अस्पताल में ऑपरेशन करने के लिए अस्पताल प्रशासन के लिए के पास मशीन उपलब्ध नहीं थी, लेकिन यह जानकारी परिजनों को नहीं दी गई. सोमवार को ही अस्पताल प्रशासन के पास मशीन आई और बुधवार को ऑपरेशन के लिए कहा गया, लेकिन इससे पहले ही मरीज की मौत हो गई.

वहीं, परिजनों की ओर से लगाए गए आरोपों को लेकर अस्पताल के एमएस डॉ. जनकराज का कहना है कि अस्पताल प्रशासन की ओर से मरीज के इलाज में कोई भी ढिलाई नहीं बरती गई. अस्पताल प्रशासन कोशिश करता है कि सभी को बेहतरीन सुविधा उपलब्ध करवाई जाए. परिजनों से जो मौखिक शिकायत मिली है, उसमें केवल दुर्व्यवहार की शिकायत है, लेकिन इलाज को लेकर परिजनों की ओर से कोई शिकायत नहीं दी गई. उन्होंने कहा कि परिजनों की ओर से लिखित शिकायत मिलने पर अस्पताल प्रशासन की ओर से मामले की जांच कर कार्रवाई की जाएगी.