Latest Posts

शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने आम आदमी पार्टी के शिक्षा मॉडल पर किया पलटवार ,आम आदमी पार्टी को बताया बरसाती मेंढक

हिमाचल की जय राम सरकार को शिक्षा व्यवस्था के मुद्दे पर घेरने वाले आम आदमी पार्टी के नेताओं पर शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने बड़ा पलटवार किया. शिक्षा मंत्री ने आप नेताओं की तुलना बरसाती मेंढ़क से की है. दरअसल, आप के प्रदेशाध्यक्ष सुरजीत ठाकुर ने दावा किया था कि हरेक मंत्री के क्षेत्र में कई सरकारी स्कूलों की हालत खस्ता है, शिक्षा व्यवस्था बदहाल है. इस पर प्रदेशाध्यक्ष ने कुछ फोटो भी जारी किए थे और पूरी कैबिनेट के इस्तीफे की मांग की थी.

इस पर पलटवार करते हुए शिक्षा मंत्री ने कहा कि समाचारों की सुर्खियों में बने रहने के लिए आप नेता ड्रामा कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी का ऐजेंडा है कि उनकी बातों को हम महत्व दें, ताकि समाचारों में बने रहें. शिक्षा मंत्री ने कहा कि उनके आरोपों का जबान देना उचित नहीं समझते, क्योंकि ये सब 2022 के चुनावों के लिए हो रहा है और आप चुनावों के बाद गुल हो जाएगी. साथ ही कहा कि हिमाचल में होने वाले विधानसभा चुनावों में सभी सीटों पर आम आदमी पार्टी की जमानत जब्त हो जाएगी.दिल्ली और पंजाब में आप सरकार पर उन्होंने कहा कि उनकी सरकार कैसी ये जनता भुगत रही है. शिक्षा व्यवस्था पर उन्होंने कहा दिल्ली और हिमाचल की तुलना नहीं की जा सकती, भौगोलिक और अन्य परिस्थितियां अलग हैं. उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार केवल 1036 स्कूल चलाती है, उनमें भी लगभग 800 स्कूलों हेडमास्टर नहीं हैं, कई सरकारी स्कूलों में साइंस की कक्षाएं नहीं हैं. कई स्थानों पर दो शिफ्टों में स्कूल चलाए जाते हैं क्योंकि आधारभूत ढांचे की कमी है जबकि हिमाचल प्रदेश में 16 हजार से ज्यादा सरकारी स्कूल हैं. उन्होंने कहा कि हिमाचल देश का ऐसा राज्य है जहां पर सबसे ज्यादा पढ़े लिखे लोग हैं, जनसंख्या के अनुपात को देखें तो हिमाचल में सबसे ज्यादा लोग सरकारी नौकरी करते हैं और सेना में भी सबसे ज्यादा लोग हिमाचली हैं.