Latest Posts

। गांव में शराब ठेका खोलने के विरोध में उपायुक्त हमीरपुर से मिला प्रतिनिधिमंडल

हमीरपुर।

गांव में शराब ठेका खोलने के विरोध में उपायुक्त हमीरपुर से मिला प्रतिनिधिमंडल

बड़सर उपमंडल के तहत आने वाले करनेहडा गांव का एक प्रतिनिधिमंडल गांव में शराब का ठेका खोले जाने के विरोध में उपायुक्त हमीरपुर देव श्वेता बनिक से मिला। प्रतिनिधिमंडल का कहना है कि गांव के बीच में शराब का ठेका खोल दिया गया है जिससे आने जाने वाली महिलाओं और बच्चों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि गांव के बाहर कहीं भी शराब का ठेका खोल दिया जाए उन्हें कोई आपत्ति नहीं है लेकिन गांव में कहीं भी शराब का ठेका खोलने नहीं दिया जाएगा।

पंचायत प्रधान ने बताया कि आज करनेहडा पंचायत के लोग डीसी से गांव में खोले गए शराब ठेके के विरोध में मिले हैं। उन्होंने कहा कि गांव के बीच में शराब का ठेका खोल दिया गया है जहां पर साथ ही स्कूल और मंदिर लगते हैं। जिससे उस रास्ते पर बच्चों और महिलाओं का आना जाना लगा रहता है। उन्होंने कहा कि शराब का ठेका खुलने से यहां का माहौल खराब होगा। जिसे देखते हुए वहां से शराब का ठेका हटाने की मांग की गई है। उन्होंने कहा कि उपायुक्त हमीरपुर ने आश्वासन दिया है कि उनकी समस्या का समाधान किया जाएगा। उन्होंने कहा कि अगर प्रशासन की तरफ से समस्या का समाधान नहीं किया जाता है तो ग्रामीण अपने स्तर पर समस्या का समाधान करने के लिए मजबूर होंगे।

प्रतिनिधिमंडल में आई महिलाओं का कहना है कि शराब का ठेका गांव में के बीच में रहने नहीं दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि यह ठेका स्कूल के गेट के साथ ही खोला गया है। जिससे बच्चों पर बुरा असर पड़ेगा। उन्होंने कहा कि सरकार की दिशा निर्देश अनुसार मंदिर और स्कूल के आसपास शराब का ठेका नहीं खोला जाता है लेकिन यह ठेका कैसे खोल दिया गया। इस पर भी महिलाओं ने सवाल उठाए हैं। महिलाओं का कहना है कि शराब के ठेकों को हटाने के लिए वह किसी भी हद तक जा सकते हैं।