Latest Posts

प्राइवेट बस चालक-परिचालकों की हड़ताल, बसें न मिलने से लोग परेशान

प्राइवेट बस चालक-परिचालकों की हड़ताल, बसें न मिलने से लोग परेशान

राजधानी शिमला में निजी बस चालकों और परिचालकों की हड़ताल है. हड़ताल की वजह से रोजाना काम के लिए आने जाने वाले लोगों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. निजी बसों के ड्राइवर-कंडक्टर की हड़ताल की वजह से लोग गंतव्य तक देरी से पहुंच रहे हैं. इस बीच लोगों को उम्मीद थी कि हड़ताल के दौरान ज्यादा सरकारी बसों का संचालन किया जाएगा, लेकिन बसें कम चलने से लोग परेशान हो रहे हैं. सरकारी बसों में ओवरलोडिंग कर लोगों को गंतव्य तक पहुंचाया जा रहा है.

: शिमला के अलग-अलग इलाकों में बस का इंतजार कर रहे यात्रियों ने बताया कि निजी बसों की हड़ताल की वजह से खासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. हिमाचल पथ परिवहन निगम को हड़ताल के दिन ज्यादा बसों का संचालन करना चाहिए था, लेकिन बसों का संचालन ना मात्र का हो रहा है. ऐसे में बसों के इंतजार के लिए घंटों सड़क पर खड़े रहना पड़ रहा है. एचआरटीसी की जो बसें रूट पर आ रही हैं, वह पहले से ही ओवरलोडेड हैं. ऐसे में आने-जाने वाले सभी लोगों को आवाजाही में परेशानी हो रही है

बता दें कि निजी बस में सेवाएं दे रहे ड्राइवर-कंडक्टर एचआरटीसी में होने वाली भर्तियों में प्राथमिकता की मांग कर रहे हैं. इसके अलावा ड्राइवर कंडक्टर को आई-कार्ड ईएसआई कार्ड और बस अड्डे पर रेस्ट रूम की सुविधा की मांग की जा रही है. निजी बस में काम करने वाले ड्राइवर-कंडक्टर का आरोप है कि वह कई बार प्रशासन से अपनी मांग रख चुके हैं, लेकिन उन्हें आश्वासन के सिवाय कुछ और नहीं मिल रहा.